in

Videio : चुनावी रंजिश में बीजेपी नेता समेत चार चार पर फायरिंग,5 लोग अरेस्ट,इलाके में तनाव

बाराबंकी. चुनावी रंजिश खून खराबे में बदल गयी यूपी की लगातार बिगड़ती कानून व्यवस्था को अपना चुनावी मुद्दा बनाकर सत्ता पर काबिज होने वाली योगी सरकार भी हर मोर्चे पर विफल होती दिख रही है।

हर दिन यूपी में गंभीर वारदातों की खबरें सुर्खियां बन रही हैं। कभी आम आदमी बदहाल कानून व्यवस्था का शिकार बन रहा है तो कभी नेता। ऐसी ही एक वारदात यूपी की राजधानी से सटे जिले बाराबंकी में घटी है।

जहां शनिवार शाम को एक बीजेपी नेता पर जानलेवा हमला हुआ। इस हमले में बीजेपी नेता के परिवार पर भी लाठी-डंडे और गोलियां चलाई गईं। इस जानलेवा हमले में दो लोगों को गोली लगी है। जबकि दो अन्य लोग घायल हुए हैं। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया। साथ ही मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया है।

बाराबंकी में शनिवार को लोनीकटरा के पास भिलवल में बीजेपी के पूर्व मंडल अध्यक्ष प्रहलाद शरण जायसवाल और उनके परिवार पर जानलेवा हमला हो गया। जानकारी के मुताबिक ये हमला चुनावी रंजिश में किया गया है। प्रहलाद शरण जायसवाल के मुताबिक उनकी भिलवल बाजार में एक दुकान है। उस दुकान पर उनका बेटा पुष्कर जायसवाल बैठा था। जहां पर गांव का ही शिवपाल यादव ने उसे गालियां देने लगा। जिसके बाद दोनों में कहासुनी हुई। इतना सब कुछ होने के कुछ देर बाद शिवपाल यादव अपने पिता लालता प्रसाद, चाचा बलराम यादव और लगभग एक दर्जन लोगों के साथ वापस दुकान पर आ धमका। इन सभी लोगों ने पुष्कर और प्रहलाद को लाठी-डोंडो से जमकर पीटा और फायरिंग कर दी। इस हमले में बीजेपी नेता प्रहलाद, पुत्र पुष्कर, भाई और ग्राम प्रधान के पति अर्जुन निगम गंभीर रूप से घायल हो गए।

मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को सीएचसी त्रिवेदीगंज पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने पुष्कर जायसवाल की हालत गंभीर बताते हुए उसे लखनऊ के केजीएमयू रेफर कर दिया गया। आपको बता दें कि पुष्कर की कमर के निचले हिस्से में गोली लगी है। वहीं वारदात के बाद पूरे इलाके में तनाव के हालात बने हुए हैं। जिसे देखते हुए प्रशासन ने मौके पर पुलिस बल तैनात कर दिया है। इस पूरे मामले को पुलिस चुनावी रंजिश का नतीजा बता रही है।

वहीं इस वारदात की जानकारी मिलने पर बाराबंकी की सांसद प्रियंका सिंह रावत, हैदरगढ़ से विधायक बैजनाथ रावत और पूर्व विधायक सुंदर लाल दीक्षित सहित कई बीजेपी नेता मौके पर पहुंचे। इस पूरे मामले पर प्रभारी एसपी शशिकांत तिवारी ने कहा कि ये पूरा मामला पंचायत चुनाव के दौरान हुई रंजिश का है। जिसमें पूर्व प्रधान के लोगों ने मौजूदा प्रधान के परिवार को निशाना बनाया है।

What do you think?

0 points
Upvote Downvote

Total votes: 0

Upvotes: 0

Upvotes percentage: 0.000000%

Downvotes: 0

Downvotes percentage: 0.000000%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विडिओ : एक ही घर से निकला 46 सांप-बाराबंकी-मुरादाबाद-गाजीपुर

Vedio : देश के 14वें राष्ट्रपति चुनने को PM मोदी से लेकर आडवाणी, राहुल और केजरीवाल तक सबने किया वोट-NDTV24 17JULY,2017-जम्मू-दिल्ली-गाज़ीपुर